Technology

दिलों पर तीर चलाने आ रहा Vivo का नया Smartphone! फीचर्स देख फैंस में मचा तहलका

दिलों पर तीर चलाने आ रहा Vivo का नया Smartphone! डिजाइन और फीचर्स देख फैंस में मचा तहलका
Vivo S15 Design Features and other Details: लोकप्रिय चीनी स्मार्टफोन ब्रांड वीवो (Vivo) आने वाले दिनों में एक नई स्मार्टफोन सीरीज, Vivo S15 लॉन्च करने जा रहा है. इस स्मार्टफोन में आपको कई सारे आकर्षक फीचर्स दिए जा रहे हैं और देखने में भी ये स्मार्टफोन काफी स्टाइलिश है. आइए एक नजर डालते हैं, Vivo S15 के फीचर्स और इसके लॉन्च से जुड़ी जानकारी पर..

लॉन्च होने जा रही वीवो की नई स्मार्टफोन सीरीज 
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि स्मार्टफोन ब्रांड वीवो (Vivo) आने वाले दिनों में एक नई स्मार्टफोन सीरीज, Vivo S15 लॉन्च करने जा रहा है. इस स्मार्टफोन सीरीज की डिजाइन को लेकर 16 मई को एक टीजर कंपनी की तरफ से जारी किया गया है. इस सीरीज में दो स्मार्टफोन्स, Vivo S15 और Vivo S15 Pro होंगे और इनका आधिकारिक अनाउन्स्मेन्ट 19 मई को चीन में किया जाएगा.

Vivo S15 Series का डिस्प्ले, स्टोरेज
आइए इस स्मार्टफोन के फीचर्स के बारे में जानते हैं. आपको बता दें कि टीजर के मुताबिक इस स्मार्टफोन सीरीज के फोन्स में ऐवीएशन ग्रेड एल्युमिनियम फ्रेम होगा. इस सीरीज के स्मार्टफोन्स के एज गोल होंगे और इसका डिस्प्ले 60 डिग्री कर्व के साथ आएगा. Vivo S15 में 6.62-इंच का फुल एचडी+ रेसोल्यूशन वाला ओएलईडी डिस्प्ले दिया जाएगा जबकि Vivo S15 Pro में 6.56-इंच का फुल एचडी+ रेसोल्यूशन वाला ओएलईडी डिस्प्ले होगा जो 120Hz के रिफ्रेश रेट के साथ आएगा.

Vivo S15 Series का कैमरा
इस सीरीज का Vivo S15 मॉडल क्वॉलकॉम स्नैपड्रैगन 870 SoC चिपसेट पर काम करेगा और Vivo S15 Pro मीडियाटेक डायमेंसिटी 8100 प्रोसेसर पर काम करेगा. दोनों स्मार्टफोन्स ट्रिपल रीयर कैमरा सेटअप के साथ आएंगे. Vivo S15 में आपको 64MP का मेन सेंसर, 8MP का अल्ट्रा-वाइड ऐंगल लेंस और 2MP का डेप्थ सेंसर मिलेगा. Vivo S15 Pro का प्राइमेरी कैमरा 50MP का है, अल्ट्रा-वाइड ऐंगल लेंस 13MP का है और डेप्थ सेंसर 2MP का है. इसमें आपको 50MP का फ्रंट कैमरा भी दिया जा रहा है.

Vivo S15 Series के बाकी फीचर्स

आपको बता दें कि इस सीरीज के दोनों स्मार्टफोन्स 12GB तक के RAM और 256GB तक के इंटरनल स्टोरेज के साथ आ सकते हैं. Vivo S15 में आपको 4,700mAh की बैटरी और 80W का फास्ट चार्जिंग सपोर्ट मिलेगा और Vivo S15 Pro 4,400mAh की बैटरी और 80W के फास्ट चार्जिंग सपोर्ट के साथ आएगा. एंड्रॉयड 12 ओएस पर चलने वाले ये दोनों फोन्स कई रंगों में उपलब्ध होंगे.

फिलहाल Vivo S15 Series की कीमत और उपलब्धता को लेकर कोई जानकारी सामने नहीं आई है.  

सावधान! वॉट्सएप पर जालसाजों ने बिछाया नया जाल, जरा सी चूक से अकाउंट हो जाएगा हैक

WhatsApp Scam: सावधान! वॉट्सएप पर बिछा ठगी का नया जाल, जरा सी चूक और अकाउंट हो जाएगा हैक
New Scam on WhatsApp: वॉट्सएप (WhatsApp) दुनिया में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किए जाने वाले ऐप में से एक है. इसका इस्तेमाल पर्सनल से लेकर प्रफेशनल और बिजनेस के लिए भी जमकर होता है. इसके एक्टिव यूजर्स को देखते हुए ही बड़ी संख्या में ठग भी यहां एक्टिव हो गए हैं. समय-समय पर वॉट्सएप पर नए-नए स्कैम सामने आते रहते हैं. अब इस इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप पर एक और नया स्कैम सामने आया है. इसमें जरा सी लापरवाही से आपका खाता और आपकी सारी पर्सनल डिटेल्स ठगों तक पहुंच सकती है. आइए जानते हैं क्या है यह नया फर्जीवाड़ा और इससे कैसे बच सकते हैं.

इस तरह हो रही ठगी  
कई बार लोगों के सामने खराब मोबाइल नेटवर्क की समस्या आती है. कुछ लोग इसकी शिकायत संबंधित कंपनी में करते हैं. इसका फायदा जालसाज उठा रहे हैं. दरअसल ठग, ऐसे लोगों को कॉल करते हैं कि आपके एरिया में खराब इंटरनेट कनेक्टिविटी है. इसे लेकर आपने कंप्लेंट दर्ज कराई थी. इसके बाद इस समस्या के समाधान के लिए ठग एक नंबर डायल करने को कहते हैं. जालसाजों का कहना होता है कि आप अगर *401* पर डायल करते हैं तो आपको कॉल बैक किया जाएगा. कई यूजर्स इन नंबरों पर डायल भी कर देते हैं.

कैसे होता है खेल
अगर यूजर ऊपर बताए गए नंबर को डायल करते हैं तो कुछ देर बाद वॉट्सएप पर ही एक मैसेज आता है, उसमें नए डिवाइस पर अकाउंट सेट करने के लिए पिन दिया होता है. इसके कुछ देर बाद ही यूजर के मोबाइल और अगर पीसी में वॉट्सएप लॉगिन है तो वहां से लॉगआउट हो जाता है. दरअसल उस नंबर को डायल करते हुए उनकी सभी कॉल ठगों के नंबर पर डायवर्ट हो जाती है. इसी का फायदा उठाकर ठग दूसरे के वॉट्सऐप को अपने फोन में लॉगिन करके उस अकाउंट में मौजूद नंबरों को मैसेज करके पैसे मांगते हैं. क्योंकि नंबर असली होता है तो कॉन्टैक्ट को भी लगता है कि उनका परिचित पैसा मांग रहा है और वो ट्रांसफर कर देते हैं.

सावधान होने की है जरूरत

इस तरह की ठगी में आपको बहुत अलर्ट होने की जरूरत है. दरअसल साइबर क्रिमिनल्स अकाउंट डायवर्ट करने के बाद अपने फोन में उसे लॉगिन करने के लिए टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन शुरू कर देते हैं. ऐसे में चाहकर भी आप आसानी से अपने वॉट्सएप अकाउंट को हासिल नहीं कर पाएंगे. ऐसे में बेहतर है कि आप भी पहले से ही वॉट्सएप पर टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन शुरू कर दें. कभी भी किसी अनजान लिंक पर क्लिक न करें.

You missed