Narendra Modi Security: पुलिस ने कांग्रेस कार्यकर्ता राजीव, रवि प्रकाश को इस मामले में गिरफ्तार भी किया है और उनपर विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है. यह बैलून एक निर्माणाधीन इमारत की छत से उड़ाए गए थे लेकिन तब तक पीएम मोदी का हेलीकॉप्टर एयरपोर्ट से उड़ान भर चुका था. 

Narendra Modi Security: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आंध्र प्रदेश दौरे पर उनकी सुरक्षा में चूक का बड़ा मामला सामने आया है. प्रधानमंत्री के हेलीकॉप्टर की ओर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने काले गुब्बारे उड़ाकर विरोध किया. पीएम मोदी का हेलीकॉप्टर जब गन्नावरम एयरपोर्ट से उड़ान भर रहा था तभी वहां से कुछ दूरी पर कांग्रेस कार्यकर्ता ने काले गुब्बारे हवा में उड़ाए जो पीएम के चॉपर के नजदीक तक आ गए. हालांकि पुलिस का मानना है कि यह पीएम मोदी की सुरक्षा में चूक का मामला नहीं है और एयरपोर्ट से करीब 5 किमी की दूरी पर ये गुब्बारे उड़ाए गए थे और पुलिस ने इस मामले में 4 लोगों को गिरफ्तार भी कर लिया है.

हेलीकॉप्टर की ओर उड़ाए गुब्बारे

जानकारी के मुताबिक पीएम मोदी के उड़ान भरने के करीब 5 मिनट बाद ये काले गुब्बारे हवा में छोड़े गए थे. पुलिस ने बताया कि पीएम मोदी के दौरे से पहले ही कांग्रेस ने विरोध प्रदर्शन का ऐलान किया था और इसी वजह से जिले की पुलिस ने कड़े सुरक्षा इंतजाम किए थे. पीएम मोदी के आने के साथ ही कुछ कांग्रेस कार्यकर्ता एयरपोर्ट की ओर बढ़ रहे थे जिनमें से 3 को हिरासत में लिया गया था. इसके बाद पीएम मोदी के रवाना होने के बाद एयरपोर्ट से करीब 5 किमी की दूरी पर सूरमपल्ली से ये काले गुब्बारे हवा में उड़ाए गए थे.

पुलिस ने कांग्रेस कार्यकर्ता राजीव, रवि प्रकाश को इस मामले में गिरफ्तार भी किया है और उनपर विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है. यह बैलून एक निर्माणाधीन इमारत की छत से उड़ाए गए थे लेकिन तब तक पीएम मोदी का हेलीकॉप्टर एयरपोर्ट से उड़ान भर चुका था. हवा में पीएम मोदी के हेलीकॉप्टर के पास उड़ते हुए गुब्बारे इस वीडियो में साफ देखे जा सकते हैं.

कृष्णा जिले के डीसीपी विजय पाल ने बताया कि अब तक इस मामले में 4 लोगों की गिरफ्तारी की जा चुकी है जिन्हें कोर्ट में पेश किया जाएगा. पुलिस मामले की जांच कर रही है और बाकी लोगों को भी जल्द गिरफ्तार किया जाएगा. 

स्वतंत्रता सैनानी के जयंती समारोह में हुए शामिल

पीएम मोदी ने आंध्र के दौर पर स्वतंत्रता सैनानी अल्लूरी सीताराम राजू की 30 फुट की कांस्य प्रतिमा का अनावरण करने के बाद कहा कि महान स्वतंत्रता सेनानी की 125वीं जयंती और रम्पा विद्रोह की शताब्दी वर्ष भर मनाई जाएगी. उन्होंने कहा कि देश स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ के साथ ही अल्लूरी सीताराम राजू की 125वीं जयंती और रम्पा विद्रोह के 100 साल मना रहा है.

‘मन्यम वीरुडु’ (वन नायक) के नाम से लोकप्रिय अल्लूरी ने 1922 में शुरू हुए रम्पा विद्रोह का नेतृत्व किया था. पीएम मोदी ने कहा, ‘स्वतंत्रता संग्राम केवल कुछ वर्षों, कुछ क्षेत्रों या कुछ लोगों का इतिहास नहीं है, यह देश के हर नुक्कड़ और हर कोने से दिए गए बलिदान का इतिहास है.’ पीएम मोदी ने अल्लूरी सीताराम राजू को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि वह शुरुआती आयु में ही देश की आजादी की लड़ाई में शामिल हो गए थे और उन्होंने आदिवासी कल्याण एवं देश के लिए खुद को समर्पित कर दिया, वह कम उम्र में शहीद हो गए.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.