Partygate Scandal: पार्टीगेट मामले में फंसे ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) की कुर्सी बच गई. कंजर्वेटिव पार्टी में पेश हुए आंतरिक अविश्वास प्रस्ताव में उन्हें 60 प्रतिशत से ज्यादा सांसदों ने अपना समर्थन दिया. जिसके चलते वे पीएम पद पर बने रहेंगे. 

Partygate Scandal: पार्टीगेट मामले में फंसे ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) ने सोमवार को अपनी पार्टी के अंदर अविश्वास प्रस्ताव जीत लिया. उन्हें पार्टी में 359 में से 211 का समर्थन हासिल हुआ, जो कि जीत के लिए जरूरी 180 वोटों से कहीं ज्यादा था. इस जीत के साथ ही बोरिस जॉनसन का पद पर बने रहना तय हो गया है. नतीजों की घोषणा कंजर्वेटिव पार्टी पार्लियामेंट्री ग्रुप के चेयरमैन Graham Brady ने की.  Graham Brady ब्रैडी ने कहा, ‘मैं घोषणा करता हूं कि पार्टी के संसदीय दल को प्रधानमंत्री पर भरोसा है.’ 

सांसदों ने पार्टी में पेश किया अविश्वास प्रस्ताव

बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) की कुर्सी के लिए खतरा तब शुरू हुआ, जब उनके खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश करने वाले कंजर्वेटिव पार्टी के सांसदों की संख्या 54 को पार कर गई. यह संख्या कुल सांसदों का 15 प्रतिशत है. बोरिस जॉनसन भी इसी पार्टी से आते हैं. पार्टी के नियमों के मुताबिक अगर 15 प्रतिशत सांसद अपने पार्टी पीएम के नेतृत्व में अविश्वास जताते हैं तो प्रधानमंत्री को अविश्वास प्रस्ताव का सामना करना पड़ता है. अब चूंकि बोरिस जॉनसन ने अविश्वास प्रस्ताव जीत लिया है, इसलिए पार्टी के नियमों के तहत उन्हें एक साल तक अविश्वास प्रस्ताव का सामना नहीं करना होगा. 

पार्टीगेट स्कैंडल में फंसे हुए थे बोरिस जॉनसन

बताते चलें कि बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) ने कोरोना महामारी के पीक दौर में वर्ष 2020 में अपने कुछ करीबियों और मंत्रियों के साथ पूल पार्टी की थी. उस ब्रिटेन में सख्त लॉकडाउन लागू था. इस पार्टी की जानकारी बाहर आने के बाद शुरू में जॉनसन ने उसमें शामिल होने से इनकार किया लेकिन जब उनके फोटो वायरल हो गए तो उन्हें इसे स्वीकार करना पड़ा. उन्होंने इस घटना के लिए खेद व्यक्त किया. लेकिन उनकी पार्टी समेत विपक्ष के अंदर इसके लिए उनकी काफी आलोचना की गई. कोरोना लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर लंदन पुलिस ने उन पर जुर्माना लगाया था. ऐसा करने के साथ ही बोरिस जॉनसन पद पर रहते हुए जुर्माना भुगतने वाले पहले ब्रिटिश पीएम बन गए थे. 

बोरिस ने जताई नतीजों पर खुशी

सोमवार रात में पार्टी के आंतरिक अविश्वास प्रस्ताव का रिजल्ट सामने आने के बाद बोरिस जॉनसन खुश दिखाई दिए. उन्होंने कहा कि रिजल्ट को बढ़िया, सकारात्मक और निर्णायक बताया. बोरिस (Boris Johnson) ने कहा कि इस रिजल्ट के बाद ब्रिटेन एकजुट होकर नई दिशा में आगे बढ़ने जा रहा है. हम अपनी अर्थव्यवस्था को मजबूत करेंगे.

विपक्षी पार्टियों ने कसा तंज

बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) भले ही अपनी कंजर्वेटिव पार्टी का आंतरिक चुनाव जीत गए हों लेकिन विरोधी पार्टियों ने तंज कसने में देरी नहीं की. विपक्षी पार्टियों ने कहा कि बोरिस जॉनसन के खिलाफ उनकी पार्टी के 148 सांसदों ने वोट दिया. इसका मतलब ये है कि उन्हीं की पार्टी के 40 प्रतिशत से ज्यादा सांसद उन्हें पीएम पद से हटाना चाहते हैं.

विपक्षी लेबर पार्टी के नेता Keir Starmer ने कहा कि बोरिस जॉनसन के पास ब्रिटेन के सामने आने वाले मुद्दों से निपटने की कोई योजना नहीं है. उनकी पार्टी के सांसदों को भी उन पर भरोसा नहीं है. केवल लेबर पार्टी ही ब्रिटेन को दोबारा से ट्रैक पर ला सकती है. 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.