Charges Framed Against Azam Khan: आजम खान के इशारे पर यतीमखाना बस्ती में मारपीट के मामले में आरोप तय किए गए हैं. इस मामले की सुनवाई एमपी/एमएलए कोर्ट में हो रही है.

Charges Framed In Four Cases Against Azam Khan: समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के नेता आजम खान (Azam Khan) की मुश्किलें एक बार फिर बढ़ गई हैं. आजम खान के खिलाफ 4 मुकदमों में कोर्ट (Court) ने आरोप तय कर दिए हैं. आजम खान ने कहा कि ये हमारे देश का न्याय है. ये न्यायिक सरकारें हैं. ये उनका स्तर है. बता दें कि शुक्रवार को रामपुर के एमपी/एमएलए कोर्ट (MP/MLA Court) में आजम खान पेश हुए. कोर्ट में यतीमखाना और डूंगरपुर मामले में सुनवाई हुई. दोनों के 4 मुकदमों में चार्ज फ्रेम किए गए. मुकदमे में आरोप था कि आजम खान के इशारे पर यतीमखाना बस्ती में रह रहे लोगों के साथ मारपीट हुई और लूटपाट की गई थी. बुलडोजर (Bulldozer) चलाकर उनके घरों को ध्वस्त कर दिया गया.

अब्दुल्ला आजम की मुश्किलें भी बढ़ीं

बता दें कि आजम खान के अलावा शुक्रवार को कोर्ट में उनके अब्दुल्ला आजम (Abdullah Azam) भी पेश हुए. अब्दुल्ला आजम दो जन्म प्रमाणपत्र (Birth Certificate) के मामले में कोर्ट में पेश हुए. अब इस मामले की अगली सुनवाई 11 जुलाई को होगी.

आजम खान पर इन मामलों में तय हुए आरोप

एडवोकेट नासिर सुल्तान (Nasir Sultan) ने बताया कि 3 यतीमखाना केस और 3 डूंगरपुर केस के मामले लगे थे. डूंगरपुर के तीन मुकदमो में आज आरोप तय हुए हैं. जबकि यतीमखाना प्रकरण के एक मुकदमे में आज चार्ज फ्रेम हुआ है. 2 मामले गवाही में थे, जिसमें जिरह हुई है. अब मामले में 16 जुलाई को सुनवाई होगी.

आजम खान ने सुनाया अपना दर्द

वहीं कोर्ट से बाहर आकर आजम खान ने अपना दर्द सुनाया. आजम खान ने कहा कि मुर्गी-बकरी से क्या जानना चाहेंगे? ये हमारे देश का न्याय है.

गौरतलब है कि हाल ही में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान की पत्नी और बेटे को मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले में पूछताछ के लिए तलब किया. अधिकारियों ने कहा कि एजेंसी आजम खान के खिलाफ मामले की जांच के सिलसिले में पीएमएलए की आपराधिक धाराओं के तहत तंजीन फातिमा और अब्दुल्ला आजम खान के बयान दर्ज करना चाहती है. आजम खान जब सीतापुर जेल में बंद थे तब मामले में एजेंसी ने उनसे पूछताछ की थी. फिलहाल वह जमानत पर बाहर हैं.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You missed