Amjad Khan Death Anniversary: अपने दौर के कमाल एक्टर रहे अमजद खान को चाय पीना काफी पसंद था. कहते हैं कि एक दिन में वो 50 कप तक चाय पी लेते थे और इसके लिए दूध कम ना पड़े लिहाजा वो सेट पर भैंस लेकर पहुंच गए थे.  

Amjad Khan Death date: भारतीय सिनेमा के इतिहास को टटोला जाए तो ना जाने कितने ही बेहतरीन कलाकारों के नाम जहन में ताजा हो जाते हैं. एक से बढ़कर एक नगीना जो हिंदी सिनेमा को रोशन कर रहा है. उन्हीं में से एक हैं अमजद खान जिनका नाम लेते ही याद आ जाता है शोले का गब्बर. यूं तो अमजद खान ने फिल्मों में अलग-अलग तरह के रोल अदा किए कुछ नेगेटिव कुछ पॉजीटिव लेकिन इस रोल के लिए सबसे ज्यादा याद किया जाता है. अमजद खान (Amjad Khan) ने 17 साल की उम्र में डेब्यू किया और फिर कभी पीछे मुड़कर उन्हें देखने की जरूरत ही नहीं पड़ी. इनसे जुड़े कई किस्से हैं जो रह-रहकर अक्सर लोगों की जुबां पर आ जाते हैं. ऐसा ही एक किस्सा जुड़ा है उनकी चाय पीने की आदत से.

जब सेट पर ही बंधवा ली थी भैंस
ये बात शायद ही कम लोग जानते होंगे कि अमजद चाय के बड़े शौकीन थे. कहा तो जाता है कि वो एक दिन में 50-50 कप चाय पी जाते थे. अमजद को जहां इतनी चाय पीने में मजा आता था तो वहीं कैंटीन वाले उनके लिए इतनी चाय बनाकर परेशान हो जाते थे क्योंकि ऐसा होने से दूध ही खत्म हो जाता था. पुराने किस्सो की माने तो सेट पर दूध की कमी ना हो इसके लिए अमजद खान ने सेट पर भैंस बंधवा दी थी.

40 रीटेक मे बोला था 3 शब्दों का एक डायलॉग
अमजद खान परफेक्शन मे विश्वास रखते थे तभी तो उन्होंने अपने हर किरदार से वाहवाही लूटी. खासतौर से जब वो शोले के गब्बर बने तो इस रोल को उन्होंने ऐसे जीया कि पर्दे पर ऐसा विलेन देख हर किसी को रोंगटे खड़े हो गए. इससे पहले ऐसा डाकू शायद ही किसी ने देखा था. फिल्म में अमजद खान से जुड़ा एक और किस्सा है. यूं तो अमजद ने फिल्म में कई आइकॉनिक डायलॉग बोले थे लेकिन उनमें से एक था – ‘कितने आदमी थे’. कहा जाता है कि इस तीन शब्दों के डायलॉग को बोलने में अमजद ने 40 टेक लिए थे.     

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.