AAP accuses BJP in Delhi: AAP विधायक ऋतुराज झा ने मनोज तिवारी और दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता के आरोपों पर खुलकर बात की है. 

AAP accuses BJP in Delhi (आदित्य प्रताप सिंह): विधायक ऋतुराज झा ने भाजपा नेता मनोज तिवारी और दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता पर निशाना साधा है. उन्होंने दोनों को सलाह दी कि उन्हें ‘टुच्ची राजनीति’ से बचना चाहिए. किराड़ी से आम आदमी पार्टी विधायक ऋतुराज झा ने ZEE NEWS से बातचीत में भाजपा के सांसद मनोज तिवारी द्वारा अस्पताल घोटाले को लेकर लगाए गये सभी आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया. 

दिन रात एक करके लाए अस्पताल 
किराड़ी विधायक ऋतुराज झा ने मनोज तिवारी और दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता को सलाह दी कि आगे से तथ्यों के साथ बात करें, ‘टुच्ची राजनीति’ से बचना चाहिए. दिन रात एक किया है तब किराड़ी की जनता के लिए अस्पताल ला पाए हैं. विधायक ऋतुराज ने बताया कि ये अस्पताल यहां किराड़ी की जनता का ही नहीं बल्कि मेरा खुद का सपना है, हमने लम्बा संघर्ष किया है और दिन रात एक कर के जमीन ली और फिर सरकार ने इस पर काम शुरू करवाया. 

4 महीनों से क्यों है काम बंद 
इसके आगे उन्होंने कहा, पिछले 4 महीनों से काम इसलिए बंद है क्योंकि जमीन में अधिक नमी और पानी होने के कारण अब इसका निर्माण पाइल फॉर्मेशन से होना है हम अभी भी लगातार प्रयास में हैं कि जल्द से जल्द यहां की जनता को अस्पताल मिल जाए. विधायक ने बताया कि 7 अस्पतालों का काम एक साथ शुरू हुआ सबके लगभग 70% काम पूरे हो गये लेकिन हमें जैसी जमीन मिली थी उस वजह से अभी तो हम शिलान्यास भी नहीं कर पाए.

आए थे तो हमें भी बुला लेते 
स्थानीय विधायक ऋतुराज झा, भाजपा सांसद मनोज तिवारी और अध्यक्ष आदेश गुप्ता पर जम के भड़के. उन्होंने कहा कि मनोज तिवारी सांसद हैं, केंद्र में उनकी सरकार है उन्होंने कितने अस्पताल बनवा दिए जो यहां राजनीति करने चले आए. अगर आए थे पहले पूरी जानकारी कर लेते. आगे और आरोप लगाते हुए आप विधायक बोले कि रानी लक्ष्मी बाई फ्लाइओवर इतने साल में 10 गुना कीमत पे कैसे बना? सुल्तानपुरी और बारापुला में क्या घोटाला हुआ इसकी जानकारी दीजिए.

क्या है अस्पताल को लेकर सच्चाई?

विधायक ने जो कागज दिखाए उनके अनुसार-
– 4 अगस्त 2020 को पहली बार इस अस्पताल को लेकर चर्चा हुई.
– डिपार्ट्मेंट DDA को 24/04/2020 चिट्ठी लिखता है
– 19/01/2021 को joint इन्स्पेक्शन होगा ये तय हुआ.
– 10/02/2021 को DDA जमीन अलॉट करता है, पौने तीन एकड़, सशर्त कि अगर तीन साल में अस्पताल नहीं बनते तो जमीन वापस ले लेंगे. पूरी जमीन की कीमत 48 रुपये है जिसमें 45 रुपए फाइल चार्ज और 3 रुपये जमीन की कीमत है.
– 22 मार्च 2021 को इसका पजेशन लिया गया.
– SAM INDIA BUILT WELL PRIVATE LIMITED को 28 जुलाई 2021 को ऑनलाइन बिड के माध्यम से टेंडर मिला.

क्यों शुरू नहीं हो सका किराड़ी के अस्पताल का काम?
जानकारी के मुताबिक जुलाई में टेंडर फाइनल होने के बाद ही काम शुरू हो गया था, लेकिन DDA ने जो जमीन अस्पताल के लिए आवंटित की वो बहुत अधिक नमी और पानी वाली जमीन है. शुरुआत में ही पानी को निकालने के लिए पम्प और बोर का सहारा लिया गया लेकिन हालत ऐसी है कि अभी भी एक फुट पर पानी दिख जाता है. जिस वजह से मजबूत बेसमेंट तैयार नहीं हो सकता था. अब पाइल फॉर्मेशन से अस्पताल का निर्माण होना है जिसके लिए लेबर वर्क पूरा हो गया है. विधायक को उम्मीद है कि जल्द ही किराड़ी में अपने अस्पताल का सपना पूरा होगा.

PWD की साइट पर मचा है घमासान
आपको बता दें कि सांसद मनोज तिवारी ने 22 जून को PWD की साइट से लिए जानकारी को लेकर दिल्ली सरकार पर अस्पतालों को लेकर बड़े आरोप लगाए थे. जवाब में अब विधायक ने कहा कि इस कागज कि प्रामाणिकता की जांच और हो सकता है मैन्यूअल मिसटेक हो, हमने उसकी भी जांच करवाने के लिए कहा है कि ये कौन सा कागज लेकर मनोज तिवारी घूम रहे हैं.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.