Boycott Bollywood: सितंबर बॉलीवुड के लिए बड़े सितारों की फिल्मों का महीना है. ब्रह्मास्त्र और विक्रम वेधा जैसी सैकड़ो करोड़ के बजट वाली फिल्में आनी हैं. इनमें बड़े कलाकार हैं. बायकॉट बॉलीवुड भी जोरों पर है. अगर ये फिल्में चल गईं तो बॉलीवुड को नई सांसें और नई ऊर्जा मिलेंगी क्योंकि पिछले कुछ महीने उसके लिए उदासी के रहे हैं.

Big Bollywood Films 2022: कोरोना के बाद बॉलीवुड कंटेंट से दर्शकों की शिकायतें, बायकॉट बॉलीवुड ट्रेंड और ओटीटी की कड़ी टक्कर इन सब बातों में फिल्म इंडस्ट्री के लोगों की नींद हराम कर रखी है. इक्का-दुक्का छोड़ कर बड़े प्रोडक्शन हाउसों, बड़े सितारों से लेकर बड़े प्रमोशन वाली फिल्में टिकट खिड़की पर ज्यादातर डूबी हैं. ऐसे में आगे क्या होगा, यह सवाल सबको परेशान कर रहा है. लेकिन जिस तरह से सितंबर में फिल्में आने के लिए तैयार हैं, उससे यही लगता है कि यह महीना बॉलीवुड की किस्मत का फैसला कर देगा. करीब आधा दर्जन सितारों की इस महीने बॉक्स ऑफिस पर अग्नि परीक्षा है. वे क्या कंटेंट लेकर आ रहे हैं, यह तो दिख ही जाएगा, साथ ही यह भी पता चल जाएगा कि अगर फिल्में अच्छी हैं तो क्या बायकॉट बॉलीवुड का असर दर्शकों पर होता है.

बड़े सितारे, बड़ी फिल्में
सितंबर में रणबीर कपूर-आलिया भट्ट-अमिताभ बच्चन, ऋतिक रोशन-सैफ अली खान, ऐश्वर्या राय बच्चन, सनी देओल, दरकीर सलमान और अक्षय कुमार जैसे बड़े सितारों से लेकर आर.माधवन, रकुल प्रीत सिंह, स्वरा भास्कर, पूजा भट्ट तथा तमन्ना भाटिया जैसे जाने-पहचाने चेहरे अपनी फिल्में टिकट खिड़की या ओटीटी पर ला रहे हैं. इन सबकी सोशल मीडिया में भी लंबी फैन फॉलोइंग है. निर्देशकों में अयान मुखर्जी, मधुर भंडारकर, आर.बाल्कि और मणि रत्नम जैसे दिग्गज नाम इस महीने सामने रहेंगे. कुल मिलाकर सितंबर में काफी गहमागहमी रहेगी और देखना होगा कि किसके कंटेंट पर दर्शक तालियां बजाते हैं.

ये हैं रिलीज डेट
दो सितंबर को अक्षय कुमार और रकुल प्रीत सिंह की कटपुतली ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज होगी. अक्षय के लिए यह साल अभी तक अच्छा नहीं रहा है. इसी का नतीजा है कि उनकी यह फिल्म सिनेमाघरों में नहीं आ रही. जबकि रणबीर-आलिया-अमिताभ की ब्रह्मास्त्र के चर्चे चारों तरफ हैं. नौ सितंबर को बॉक्स ऑफिस पर इस अग्निअस्त्र की परीक्षा है. ऋतिक रोशन-सैफ अली के साथ राधिका आप्टे भी रीमेक विक्रम वेधा में हैं. इस साल की सबसे बड़ी यह रीमेक 30 सितंबर को आएगी. इसी दिन ऐश्वर्या राय बच्चन स्टारर निर्देशक मणि रत्नम की पीएस-1 भी साउथ की भाषाओं समेत हिंदी में भी रिलीज हो रही है. आर.माधवन की थ्रिलर धोखा-राउंड द कॉर्नर पर सबकी नजर है. इसके ट्रेलर ने लोगों का ध्यान आकर्षित किया है. फिल्म 23 सितंबर को थियेटरों में आएगी, जबकि स्वरा भास्कर 16 सितंबर को फिल्म जहां चार यार में सिनेमाघरों में नजर आएंगी. मधुर भंडारकर की तमन्ना भाटिया स्टारर बबली बाउंसर भी 23 सितंबर को ओटीटी पर आ रही है. 23 सितंबर को ही थियेटर में आर.बाल्कि की चुप रिलीज हो रही है, जिसका ट्रेलर लोगों को दिग्गज फिल्मकार गुरुदत्त की याद दिला रहा है. फिल्म में दलकीर सलमान, सनी देओल और पूजा भट्ट हैं.

दर्शकों का दिखेगा मूड
सितारों वाली बड़ी फिल्मों के साथ सितंबर में शाहिद कपूर की बहन सना कपूर की सरोज का रिश्ता, निर्माता अनुभव सिन्हा की मिडिल क्लास लव, रवि किशन-ईशा कोप्पिकर की लव यू लोकतंत्र, निर्देशक मनीष मूंदड़ा की सिया, निर्देशन से एक्टिंग में आए सीनियर डायरेक्टर प्रकाश झा की मट्टू की साइकिल जैसी फिल्में भी रिलीज होंगी. इनमें से कौन सी तुरुप का पत्ता साबित हो जाए, कहा नहीं जा सकता. वास्तव में सितंबर के महीने में यह साफ हो जाएगा कि हिंदी का दर्शक बॉलीवुड का कंटेंट देखने के मूड में है या वह सचमुच बॉलीवुड का बायकॉट कर रहा है. सोशल मीडिया में ब्रह्मास्त्र और विक्रम वेधा जैसी बड़ी फिल्मों के खिलाफ और समर्थन में बातें हो रही हैं. लगातार चार फ्लॉप दे चुके अक्षय कुमार की इस साल एक और फिल्म आनी है और वह चाहेंगे कि उनका रिकॉर्ड सुधर जाए. आर.माधवन की रॉकेट्री को हाल में दर्शकों ने सराहा था. क्या उनकी थ्रिलर भी पसंद जाएगी, यह सवाल है. जबकि मधुर भंडारकर और तमन्ना भाटिया लंबे समय बाद हिंदी में आ रहे हैं. मधुर ने अपनी नायिका प्रधान फिल्मों की तरह ही बबली बाउंसर भी बनाई है. हाल के समय में जिस तरह से हीरोइन सेंट्रिक फिल्में नाकाम रही हैं, उन्हें देखते हुए इस फिल्म के नतीजा का सबको इंतजार रहेगा.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.