भारत और पाकिस्तान दोनों ही देशों को आजाद हुए 75 साल तो गए लेकिन दोनों देशों में आज बहुत फर्क है. ऐसे में आइए आपको बताते हैं कि आखिर भारत और पाकिस्तान में कितना फर्क है. इस फर्क को हम अर्थव्यवस्था, साक्षरता, जीडीपी के लिहाज से जानने की कोशिश करते हैं. 

Difference between India vs Pakistan: भारत ने बीते दिन ही आजादी के 75 साल पूरे किए. इन 75 सालों में भारत ने तरक्की की कई सीढ़ियां चढ़ीं. देश ने परमाणु हथियार से लेकर हाईटेक इंफ्रास्ट्रक्चर तक बहुत विकास किया. लेकिन वहीं एक पड़ोसी देश और है जिसे आजाद हुए भी 75 साल तो हो गए. लेकिन वो तरक्की नहीं पाया. पाकिस्तान में जनता मूलभूत सुविधाओं के लिए परेशान है. इसकी वजह है कि पाकिस्तान ने विकास की नहीं कट्टरपंथी की राह चुनी. आज दोनों ही देशों में जमीन आसमान का फर्क है. आइए आपको बताते हैं कि आखिर भारत और पाकिस्तान में कितना फर्क है. इस फर्क को हम अर्थव्यवस्था, साक्षरता, जीडीपी के लिहाज से जानने की कोशिश करते हैं. 

यह है सबसे बड़ा फर्क

भारत और पाक के सामाजिक इंडेक्स की बात की जाए तो हमारा देश मजबूती से लोकतंत्र के साथ चल रहा है, लेकिन पाकिस्तान में लोकतंत्र नदारद है और धार्मिक कट्टरता हावी है. वहीं, भारत में 18% अल्पसंख्यक रहते हैं और पाकिस्तान में मात्र 2% अल्पसंख्यक हैं जो कि वहां काफी परेशान रहते हैं और उन्हें अपनी जान का खतरा भी सताता रहता है. गौरतलब है कि यहां साक्षरता प्रतिशत 77 फीसदी है और पाकिस्तान में यह आंकड़ा 60 फीसदी का है. अगर उच्च शिक्षा की बात करें तो भारत में 596 मेडिकल कॉलेज हैं और पाकिस्तान में 176 मेडिकल कॉलेज हैं. वहीं, विश्वविद्यालयों की बात करें तो यहां करीब 800 विश्वविद्यालय हैं, लेकिन पाकिस्तान में 174 ही कॉलेज हैं.

अर्थव्यवस्था में दिग्गज कौन?

जब पाकिस्तान अलग हुआ तो भारत ने पाकिस्तान को भी क्षेत्र के आधार पर कुछ पैसे दिए थे. इसके साथ ही संसाधनों का भी बराबर बंटवारा किया गया था. वहां से दोनों देशों की राहें अलग हो गईं और भारत की अर्थव्यवस्था आज विश्व में छठे स्थान पर है, जबकि पाकिस्तान 42वें नंबर पर संघर्ष कर रहा है. साथ ही यह भी अनुमान जताया जा रहा है कि भारत कुछ सालों में 2030 में तीसरी अर्थव्यवस्था बन जाएगा और 2030 में पाकिस्तान भारी कर्ज में डूबा होगा, ऐसी आशंका बताई जा रही है.

GDP में फिसड्डी है पाक?

वहीं अगर GDP आंकड़ों पर नजर डाली जाए तो भारत की जीडीपी 2670 अरब डॉलर है. वहीं, पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था 314 अरब डॉलर है. एक आंकड़े की मानें तो साल 2030 तक भारत ने 8400 अरब डॉलर का टारगेट बनाया हुआ है, लेकिन पाकिस्तान ने ऐसे किसी भी अनुमान को नहीं लगाया है.

सालाना आय में भी पाकिस्तान पीछे

भारत की प्रति व्यक्ति आय 1900.71 डॉलर है, जबकि पाकिस्तान की आय 1193.73 डॉलर है. यह फर्क बताता है कि पाकिस्तान कमाई के मामले में कितना पीछे है. वहीं, गरीबी की दर देखें तो भारत में ये दर 6.3 फीसदी है, जबकि पाकिस्तान में यह दर 39 फीसदी है.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You missed