Vladimir Putin: इस नियम के तहत तय भुगतान यूक्रेन के नागरिकों और स्वघोषित डोनेट्स्क और लुहान्स्क पीपुल्स रिपब्लिक के लोगों को मिलेगा. बता दें कि रूस ने फरवरी 2022 को यूक्रेन पर हमला कर डोनबास क्षेत्र के दो हिस्सों को स्वघोषित पीपुल्स रिपब्लिक की मान्यता दी थी. 

Russia Ukraine Conflict: रूस ने हाल ही में स्पष्ट किया है कि वह अभी यूक्रेन से अपने पैर पीछे नहीं खींचेगा. यूक्रेन को शिकस्त देने के लिए रूस सभी तरह के हथकंडे अपना रहा है. इसी कड़ी में अब रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन एक ऐसा कानून लेकर आए हैं जिसके तहत क्रेन से रूस में आने वाले लोगों को आर्थिक मदद दी जाएगी. शनिवार को पुतिन ने इस सरकारी डिक्री पर साइन करते हुए संबंधित विभाग को यूक्रेन छोड़कर आने वाले लोगों की मदद करने का आदेश भी दिया. अधिकारियों से कहा गया है कि इस नियम को जल्द और अच्छे से फॉलो कराएं, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को इसका लाभ मिल सके.

महीने में मिलेंगे 13500 रुपये

रिपोर्ट के मुताबिक, इस कानून के तहत पेंशनभोगियों, गर्भवती महिलाओं और विकलांगों सहित यूक्रेन के क्षेत्र से रूस आने वाले लोगों के लिए वित्तीय मदद की पहल की गई है. अब इन लाभार्थियों को 10000 रूबल यानी करीब 13500 रुपये मासिक पेंशन के रूप में दी जाएगी. इसमें उन लोगों को शामिल किया जाएगा, जो 18 फरवरी के बाद मजबूरी में यूक्रेन छोड़कर रूस आ गए हों.

इन्हें मिलेगा फायदा

इस नियम के तहत तय भुगतान यूक्रेन के नागरिकों और स्वघोषित डोनेट्स्क और लुहान्स्क पीपुल्स रिपब्लिक के लोगों को मिलेगा. बता दें कि रूस ने फरवरी 2022 को यूक्रेन पर हमला कर डोनबास क्षेत्र के दो हिस्सों को स्वघोषित पीपुल्स रिपब्लिक की मान्यता दी थी. यूक्रेन के लोगों को लुभाने के लिए रूस पहले ही उन्हें देश में आने पर बिना किसी जटिलता के पासपोर्ट दे रहा है. इसके लिए आवेदक को किसी तरह की जद्दोजहद नहीं करनी पड़ेगी. बस उसे यह साबित करना होगा कि वह यूक्रेन का ही मूल निवासी है. पुतिन यूक्रेन को हराने के लिए तमाम कोशिशें कर रहे हैं. वह यूक्रेन की जनता तक को अपने पक्ष में करने में जुटे हैं.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.