Woman Claims herself Goddess Parvati: भारत-चीन सीमा पर रहने वाली महिला ने देवी पार्वती होने का दावा किया है, वह भगवान शिव से शादी करना चाहती है. इसलिए उसने प्रतिबंधित क्षेत्र से खुद को हटाने पर आत्महत्या की धमकी दी है. 

Woman Claims herself Goddess Parvati: भारत और चीन की सीमा पर प्रतिबंधित क्षेत्र में इन दिनों एक महिला ने डेरा जमाया हुआ है. उसे हटाने गई एक पुलिस टीम को निराश होकर लौटना पड़ा क्योंकि उसने धमकी दी थी कि अगर वे उसे ले गए तो वह आत्महत्या कर लेगी. इससे भी ज्यादा चौंकाने वाली बात ये है कि महिला खुद को माता पार्वती का अवतार बता रही है. 

लखनऊ की रहने वाली है महिला

दरअसल, लखनऊ की एक महिला जो भारत-चीन सीमा के पास नाभिधांग के प्रतिबंधित इलाके में अवैध रूप से रह रही है, उसने इस जगह को छोड़ने से इनकार कर दिया है. उसने यह दावा भी किया है कि वह देवी पार्वती का अवतार है और कैलाश पर्वत पर रहने वाले भगवान शिव से शादी करेगी.

पुलिस को लौटना पड़ा खाली हाथ 

इस मामले में NDTV से बात करते हुए पिथौरागढ़ के एसपी लोकेंद्र सिंह ने कहा कि प्रतिबंधित क्षेत्र से हरमिंदर कौर को हटाने गई एक पुलिस टीम को निराश होकर लौटना पड़ा क्योंकि उसने धमकी दी थी कि अगर उन्होंने उसे ले जाने पर जोर दिया तो वह आत्महत्या कर लेगी. हालांकि, हमने उसे जबरन धारचूला लाने के लिए एक बड़ी टीम भेजने का फैसला किया है.

25 मई तक की थी अनुमति 

एसपी ने कहा, ‘उत्तर प्रदेश के अलीगंज इलाके की रहने वाली महिला एसडीएम धारचूला से 15 दिन की अनुमति पर अपनी मां के साथ गुंजी गई थी, लेकिन 25 मई को उसकी अनुमति समाप्त होने के बाद भी प्रतिबंधित क्षेत्र छोड़ने से इनकार कर दिया.’ पुलिस अधिकारी ने कहा कि प्रतिबंधित क्षेत्र से महिला को वापस लाने के लिए धारचूला से दो उप निरीक्षकों और एक निरीक्षक की तीन सदस्यीय पुलिस टीम भेजी गई थी, लेकिन उन्हें खाली हाथ लौटना पड़ा.

मानसरोवर के रास्ते में है महिला 

अधिकारी ने कहा, ‘हमने महिला को वापस लाने के लिए शुक्रवार को चिकित्सा कर्मियों सहित 12 सदस्यीय एक बड़ी पुलिस टीम भेजने की योजना बनाई है.’ महिला मानसिक रूप से स्थिर नहीं है क्योंकि वह दावा करती है कि वह देवी पार्वती का अवतार है और भगवान शिव से शादी करने आई है. बता दें कि गुंजी कैलाश-मानसरोवर के रास्ते में है.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.