Chiranjeevi And Ram Charan: बॉलीवुड में बड़ी-बड़ी फिल्में नहीं चलतीं, लेकिन सितारे प्रोड्यूसर के घाटे को देखे बगैर आगे बढ़ जाते हैं. साउथ से खबर है कि चिरंजीवी और राम चरण तेजा ने अपनी फिल्म फ्लॉप होने पर निर्माता को 50 परसेंट पैसे वापस कर दिए.

Tamil Film Acharya Flop: बॉलीवुड में इधर सितारों की एक के बाद एक फिल्में बॉक्स ऑफिस पर लुढ़क रही हैं और वे फीस भी बढ़ाते जा रहे हैं. जबकि फिल्म फ्लॉप होने पर पूरा नुकसान निर्माता और वितरक को उठाना पड़ता है. यह देख सुन कर भी बॉलीवुड सितारों के चेहरे पर शिकन तक नहीं आती और वे अपनी फीस वसूल कर आगे बढ़ जाते हैं. लेकिन साउथ में ऐसा नहीं होता. वहां सितारे अपनी जिम्मेदारी समझते हैं. यही वजह है कि बीते अप्रैल में रिलीज हुई मेगा-बजट तमिल फिल्म आचार्य के सितारों चिरंजीवी और राम चरण ने निर्माताओं को अपनी आधी फीस लौटा दी है. यही नहीं फिल्म के डायरेक्टर कोरातला सिवा ने भी अपनी पचास फीसदी फीस निर्माताओं को वापस कर दी है.

बड़ी फ्लॉप साबित हुई आचार्य
इस साल अप्रैल में पिता-पुत्र की जोड़ी चिरंजीवी और राम चरण तेजा की फिल्म आचार्य बहुत धूमधाम से रिलीज हुई थी. सबको उम्मीद थी कि फिल्म खूब चलेगी मगर हुआ उल्टा. फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर पानी भी नहीं मांगा. नतीजा यह कि निर्माताओं के साथ-साथ फिल्म रिलीज करने वाले वितरकों को भी जबर्दस्त घाटा हो गया. रोचक बात यह कि वितरकों का फिल्म पर इतना विश्वास था कि उन्होंने ‘आउटराइट’ समझौते के साथ महंगी दर पर फिल्म खरीदी थी. इसका मतलब यह था कि फिल्म से जो भी मुनाफा होगा, वह उसे निर्माता के साथ शेयर नहीं करेंगे और अगर घाटा भी हुआ तो वह खुद उसे झेलेंगे. लेकिन फिल्म जितनी बड़ी फ्लॉप हुई, उसकी किसी को कल्पना नहीं थी.

डायरेक्टर ने ली जिम्मेदारी और लौटाए पैसे
जब फिल्म का बुरा हाल हुआ तो निर्माता-निर्देशकों के पास वितरक रोते हुए पहुंचे. तब उन्होंने विश्वास दिलाया कि नुकसान की भरपाई करेंगे. पहले निर्देशक कोरातला सिवा ने अपनी आधी फीस निर्माता निरंजर रेड्डी को लौटाई. यह भी खबरें आई कि उन्होंने अपनी कुछ प्रॉपर्टी भी बेचने का मन बनाया ताकि वितरकों का घाटा पूरा कर सकें. जब यह मामला चिरंजीवी और रामचरण तेजा को पता चला तो उन्होंने हस्तक्षेप किया और अपनी 50 फीसदी फीस निर्माता को वापस कर दी, जिससे कि वह वितरकों का घाटा पूरा कर सकें. उल्लेखनीय है कि साउथ में अक्सर ऐसा देखने को मिलता है कि जब बड़े सितारे निर्माताओं-वितरकों को होने वाले घाटे की भरपाई के लिए फीस में कटौती करते हैं या फिर पैसा तक लौटा देते हैं. सुपरस्टार रजनीकांत पर भी निर्माता इसी विश्वास से मोटी रकम लगाते हैं.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.