Coronavirus: अब तक कोरोना वायरस का संक्रमण पालतू जानवरों से इंसानों को नहीं हो रहा था. लेकिन अब पहली बार ऐसा मामला सामने आया है जहां एक संक्रमित बिल्ली से इंसान को कोरोना संक्रमण हो गया है. 

Coronavirus: पहले से स्वस्थ 32 वर्षीय एक महिला पशुचिकित्सक संक्रमित बिल्ली के संपर्क में आने के बाद कोविड से संक्रमित हो गई. थाईलैंड में सोंगक्ला विश्वविद्यालय के प्रिंस के शोधकर्ताओं ने पशु चिकित्सक के मामले की सूचना दी, जिसे पिछले साल अगस्त में एक संक्रमित रोगी के पास रहने वाली बिल्ली के छींकने के बाद कोविड पॉजिटिव पाया गया.

बिल्ली को निकला था कोरोना पॉजिटिव 

इमर्जिग इंफेक्शियस डिजीज जर्नल में प्रकाशित पेपर के मुताबिक, आनुवंशिक अध्ययन में मालिक से बिल्ली तक और फिर बिल्ली से पशु चिकित्सक तक सार्स-कोव-2 के संचरण की परिकल्पना का समर्थन किया गया. पशु चिकित्सक ने खुलासा किया कि 5 दिन पहले उसने और एक अन्य पशु चिकित्सक ने एक बिल्ली की जांच कराई थी, जो कोविड से संक्रमित निकली. बिल्ली उसी बिस्तर पर सोई थी, जिस पर संक्रमित आदमी सोता था.

सार्स-कोव-2 वायरस में है ये खतरा 

शुरुआती जांच में बिल्ली को सामान्य घोषित किया गया. लेकिन तीन दिन बाद रोगी में वायरस के लक्षण दिखाई दिए और वह भी बिल्ली की तरह छींकने लगा. जांच में वह पॉजिटिव पाया गया. अध्ययन इस बात का सबूत देता है कि सार्स-कोव-2 वायरस बिल्लियों से मनुष्यों में पहुंच सकता है.

संक्रमित पालतू से बनाएं दूरी 

हालांकि, विशेषज्ञ यह भी कहते हैं कि बिल्लियों के मनुष्यों को वायरस से संक्रमित करने का जोखिम कम रहता है. यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन ने सिफारिश की है कि जो लोग वायरस से संक्रमित हैं, वे अपने पालतू जानवरों के संपर्क से बचें.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.