PM Modi meets Thomas cup tournament winner team: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने थॉमस कप विजेताओं से मुलाकात की, उनका हौसला बढ़ाया. पीएम ने एक एक कर सभी खिलाड़ियों से बात की. उन्होंने कहा, ‘एक समय था जब कोई इस टाइटल के बारे में जानता तक नहीं था, लेकिन आप लोगों ने जीत दिला कर इतिहास रच दिया.

PM Narendra Modi met Thomas Cup winners: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने थॉमस कप बैडमिंटन टूर्नामेंट का खिताब जीतकर इतिहास बनाने वाली भारतीय टीम (Indian Team) के खिलाड़ियों से मुलाकात करते हुए कहा कि ये कोई छोटी उपलब्धि नहीं है. PM मोदी ने बैंकॉक में हुए इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में ऐतिहासिक जीत के बाद खिलाड़ियों को टेलीफोन पर बधाई देने के कुछ दिन बैडमिंटन टीम के सदस्यों से निजी तौर पर मुलाकात करके उनके साथ सीधी बातचीत की. मोदी ने कहा, ‘मैं देश की तरफ से पूरी टीम को बधाई देता हूं. यह कोई छोटी उपलब्धि नहीं है. आपने कर दिखाया. एक दौर था जब हम इन टूर्नामेंटों में इतने पीछे थे कि यहां किसी को पता ही नहीं चलता था.’

प्रधानमंत्री ने चैंपियन शटलर (बैडमिंटन खिलाड़ी) से मुलाकात के दौरान थॉमस कप की यादों को भी ताजा किया जहां भारत ने खिताब के दावेदार इंडोनेशिया को हराकर स्वर्ण पदक जीता.

हां हम कर सकते हैं: PM Modi

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘हां, हम यह कर सकते हैं’ का रवैया आज देश में नयी ताकत बन गया है. मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि सरकार खिलाड़ियों को हर संभव मदद प्रदान करेगी.’सीनियर खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत ने जिस तरह से भारतीय चुनौती की अगुवाई की उसके लिये प्रधानमंत्री ने इस 29 वर्षीय खिलाड़ी की सराहना की.

वहीं श्रीकांत ने कहा, ‘सर मैं बहुत गर्व के साथ कह सकता हूं कि दुनिया का कोई भी खिलाड़ी इसको लेकर शेखी नहीं बघार सकता. केवल हमें जीत के तुरंत बाद आपसे बात करने का सौभाग्य मिला. इसके लिये बहुत बहुत आभार. सर हम सभी खिलाड़ियों को यह कहते हुए गर्व होगा कि हमें अपने प्रधानमंत्री का समर्थन हासिल है’. 

कायल हुए कोच

मुख्य राष्ट्रीय कोच पुलेला गोपीचंद ने कहा, ‘प्रधानमंत्री खिलाड़ियों और खेल का अनुसरण करते हैं और खिलाड़ियों से जुड़ते हैं.’ जहां तक डेनमार्क के रहने वाले ​​युगल कोच माथियास बो की बात है तो उन्होंने कहा, ‘मैं एक खिलाड़ी रहा हूं और मैंने पदक भी जीते हैं लेकिन मेरे प्रधानमंत्री ने मुझे कभी मुलाकात के लिये नहीं बुलाया.’ 

स्टार शटलर लक्ष्य सेन ने प्रधानमंत्री को अल्मोड़ा की प्रसिद्ध ‘बाल मिठाई’ उपहार में दी. सेन ने कहा, ‘प्रधानमंत्री ने अल्मोड़ा की बाल मिठाई के बारे में कहा था और मैं उसे लेकर गया. यह दिल छू लेने वाली बात है कि उन्हें खिलाड़ियों के बारे में छोटी-छोटी बातें याद रहती हैं.’ सेन ने प्रधानमंत्री से कहा, ‘जब भी आप हमसे मिलते हैं, हमसे बातचीत करते हैं तो हमें बहुत प्रेरणा मिलती है. मुझे उम्मीद है कि मैं भारत के लिये आगे भी पदक जीतता रहूंगा, आपसे मिलता रहूंगा और आपके लिये बाल मिठाई लाता रहूंगा.’

आप भेदभाव नहीं करते: उन्नति हुड्डा

प्रधानमंत्री ने पूछा कि हरियाणा की धरती में ऐसा क्या है कि वहां से एक के बाद एक दिग्गज खिलाड़ी निकलते हैं? प्रधानमंत्री से मुलाकात करने वालों में हरियाणा की रहने वाली महिला शटलर उन्नति हुड्डा भी शामिल थी. उन्नति ने कहा, ‘सर, जो बात मुझे प्रेरित करती है, वह यह है कि आप पदक विजेताओं और पदक नहीं जीत पाने वालों में भेदभाव नहीं करते हैं.’ युगल विशेषज्ञ सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी ने कहा कि खिलाड़ी पिछले सप्ताह खिताब जीतने के बाद अपने पदकों के साथ सोये थे. भारत ने थॉमस कप फाइनल में 14 बार के चैंपियन इंडोनेशिया को 3-0 से हराकर खिताब जीता था.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.