PM Modi about Drone Cameras: देश के सबसे बड़े ड्रोन महोत्सव के उद्घाटन के बाद लोगों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कुछ महीने पहले तक ड्रोन टेक्नोलोजी पर कई प्रतिबंध थे, केन्द्र सरकार ने बेहद कम समय में ऐसे सभी प्रतिबंधों को समाप्त कर दिया है.

PM Modi about Drone Cameras: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि 2014 से पहले शासन में टेक्नोलोजी के उपयोग के प्रति ‘उदासीनता’ का माहौल था और इसके चलते गरीब एवं मध्यम वर्ग के लोग सबसे ज्यादा प्रभावित हुए. प्रधानमंत्री ने इस बात को रेखांकित किया कि वर्तमान सरकार ने ड्रोन सहित अन्य टेक्नोलोजी की मदद से सेवाओं को अंतिम छोर तक पहुंचाना सुनिश्चित किया है. उन्होंने यहां देश के सबसे बड़े ड्रोन महोत्सव के उद्घाटन के बाद लोगों को संबोधित करते हुए यह बात कही. 

ड्रोन के क्षेत्र में रोजगार सृजन की संभावनाएं

उन्होंने कहा ,‘ऐसे वक्त, जब हम आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं, मेरा सपना है कि भारत में प्रत्येक व्यक्ति के हाथ में एक स्मार्टफोन हो, हर खेत में एक ड्रोन हो और प्रत्येक घर में समृद्धि हो.’ मोदी ने कहा कि भारत में ड्रोन टेक्नोलोजी को लेकर जिस तरह का उत्साह देखा जा रहा है, वह अद्भुत है और यह इस उभरते क्षेत्र में रोजगार सृजन की संभावनाओं का संकेत देता है. 

उन्होंने कहा कि 8 साल पहले ‘हमने सुशासन के नए मंत्रों को लागू करना शुरू किया और न्यूनतम सरकार तथा अधिकतम शासन के सिद्धांत पर चलते हुए जीवन और कारोबार की सुगमता को प्राथमिकता दी गई.’ मोदी ने कहा कि पहले की सरकारों के कार्यकाल में टेक्नोलोजी को समस्या का हिस्सा समझा जाता था और इन पर ‘गरीब विरोधी’ होने का ठप्पा लगाने के प्रयास किए जाते थे. 

‘टेक्नोलोजी से हुई सहजता’

इसके कारण 2014 से पहले के शासन में टेक्नोलोजी के उपयोग को लेकर उदासीनता का माहौल था और इसका सबसे ज्यादा असर गरीबों, वंचितों और मध्यम वर्ग पर पड़ा. उन्होंने कहा, ‘ड्रोन टेक्नोलोजी को बढ़ावा देना, सुशासन एवं जीवन को सुगम बनाने के प्रति हमारी प्रतिबद्धता को आगे बढ़ाने का एक और माध्यम है. ड्रोन के रूप में, हमारे पास एक और स्मार्ट उपकरण है जो लोगों के जीवन का हिस्सा बनने जा रहा है.’ प्रधानमंत्री ने कहा कि एक वक्त था जब लोग राशन पाने के लिए घंटों लंबी कतारों में खड़े रहते थे, लेकिन पिछले 7 से 8 वर्षों में इन बाधाओं को टेक्नोलोजी की सहायता से दूर किया गया है. 

‘टेक्नोलोजी पर सबका अधिकार’

पीएम मोदी ने दावा किया कि पहले ऐसा समझा जाता था कि टेक्नोलोजी संबंधी आविष्कारों पर संभ्रांत लोगों का अधिकार है लेकिन,‘आज हम सुनिश्चित कर रहे हैं कि किसी भी नई टेक्नोलोजी की लाभार्थी सबसे पहले जनता बने. ड्रोन टेक्नोलोजी इसका एक उदाहरण है.’ प्रधानमंत्री ने कहा कि टेक्नोलोजी ने अंतिम छोर तक आपूर्ति सुनिश्चित करने में बहुत मदद की है. 

ड्रोन टेक्नोलोजी बन रही क्रांति का उदाहरण

उन्होंने कहा कि PM स्वामित्व योजना इस बात का उदाहरण है कि कैसे ड्रोन टेक्नोलोजी बड़ी क्रांति का आधार बन रही है और इसके जरिए पहली बार गांवों में सभी संपत्तियों की माप डिजिटल तरीके से की जा रही है और लोगों को 65 लाख डिजिटल संपत्ति कार्ड दिए गए हैं. उन्होंने कहा कि कृषि, खेल, रक्षा और आपदा प्रबंधन जैसे क्षेत्रों में ड्रोन का उपयोग बढ़ेगा. 

पहले ड्रोन पर था बैन!

मोदी ने कहा कि कुछ महीने पहले तक ड्रोन टेक्नोलोजी पर कई प्रतिबंध थे, केन्द्र सरकार ने बेहद कम समय में ऐसे सभी प्रतिबंधों को समाप्त कर दिया है. वह पिछले वर्ष नागर विमानन मंत्रालय द्वारा सरल किए गए ड्रोन नियमों का जिक्र कर रहे थे. उन्होंने कहा कि सरकार देश भर में स्वास्थ्य एवं आरोग्य केन्द्रों के नेटवर्क को मजबूत बना रही है. 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.