Corona Death Rate:देश मे जहां कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है. वहीं, संक्रमण से होने वाले आंकड़ों में भी इजाफा हो रहा है. देश की राजधानी की बात करें तो यहां कोरोना से होने वाली मौत का आंकड़ा बेहद डरावना है. 

Delhi Corona Death Rate: दिल्ली में कोविड-19 के कारण अगस्त के शुरुआती 10 दिनों में ही 32 लोगों की मौत हो गई. जबकि, जुलाई के आखिरी 10 दिनों में कोरोना वायरस ने 14 लोगों की जान ली थी. महामारी के कारण मौत होने में करीब दो गुना से ज्यादा की बढ़ोतरी हुई है. सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली में एक अगस्त को दो, दो अगस्त को तीन, तीन अगस्त को पांच, चार अगस्त को चार, पांच अगस्त को दो, छह अगस्त को एक, सात अगस्त को दो, आठ अगस्त को छह और नौ अगस्त को सात मौतें दर्ज की गईं.

जुलाई में हुईं इतनी मौतें

वहीं, अगर 22 और 23 जुलाई की बात करें तो को क्रमश: 24, 25, 26 जुलाई को एक-एक और 27 जुलाई को दो-दो मौतें हुईं. जबकि, 28 जुलाई को किसी भी संक्रमित की मौत नहीं हुई. 29 और 30 जुलाई को एक-एक मरीज मृत्यु हुई और 31 जुलाई को किसी भी संक्रमित की मौत नहीं हुई.

दिल्ली में अब तक इतने लोगों की गई जान

नौ अगस्त को हुई मौतें 180 दिन में सर्वाधिक हैं. दिल्ली में कोविड के कारण 26,343 लोगों की जान जा चुकी है. राष्ट्रीय राजधानी में पिछले एक हफ्ते में संक्रमण के मामले बढ़े हैं. संक्रमण के कारण होने वाली मौतें भी बढ़ रही हैं.

दूसरे बीमारियों से भी थे पीड़ित

हालांकि, विशेषज्ञों और अधिकारियों का कहना है कि संक्रमण के कारण उन्हीं लोगों की जान जा रही है, जो पहले से किसी बीमारी से पीड़ित हैं या कैंसर, टीबी या दूसरी गंभीर बीमारी है. एक सरकारी अधिकारी ने कहा कि मौत के अधिकतर मामलों में मरीज संयोग से कोविड से पीड़ित था, क्योंकि उनका अन्य बीमारी का इलाज पहले से ही चल रहा था.

इन लोगों को ध्यान रखने की जरूरत

फोर्टिस अस्पताल में पल्मोनोलॉजी की वरिष्ठ डॉक्टर ऋचा सरीन ने कहा कि सबसे ज्यादा खतरा बुजुर्गों और पहले से किसी बीमारी से पीड़ित लोगों को है, क्योंकि इस वर्ग में संक्रमण गंभीर रूप ले रहा है.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.